हिमाचल में लोकतंत्र महापर्व के अनोखे रंग: 5 पोलिंग बूथ ऐसे, जहां 14 किमी पैदल चलकर पहुंचेगा स्टाफ - himexpress
himexpress
Breaking News
Breaking News आयोजन कम्पीटीशन रिव्यू हिमाचल

हिमाचल में लोकतंत्र महापर्व के अनोखे रंग: 5 पोलिंग बूथ ऐसे, जहां 14 किमी पैदल चलकर पहुंचेगा स्टाफ

हिम एक्सप्रेस, धर्मशाला ब्यूरो

Advertisement

हिमाचल में विधानसभा चुनाव को लेकर निर्वाचन आयोग की तैयारियां पूरी हो चुकी है ऐसे में पोलिंग स्टेशनों को लेकर निर्वाचन आयोग ने काम पूरा कर लिया है इसी कड़ी में चंबा का चस्क भटोरी पोलिंग स्टेशन सड़क से 14 किलोमीटर दूर है। पोलिंग पार्टियां यहां पैदल चलकर चुनाव करवाएंगी। प्रदेश के 5 पोलिंग स्टेशन ऐसे है जहां पर पोलिंग कर्मचारियों को 10 से 15 किलोमीटर का पैदल सफर तय करके लोकतंत्र के महापर्व को निपटाना होगा।

इसमें चंबा का चस्क भटोरी सबसे दूर वाला पोलिंग स्टेशन है । कुल्लू के बंजार का शाकटी पोलिंग स्टेशन तक पहुंचने के लिए 10 किलोमीटर का लंबा सफर तय करना होगा। मंडी के मंझागण पोलिंग स्टेशन पर पहुंचने के लिए भी 10 किलोमीटर का सफर तय करना होगा। शिमला के रोहड़ू में पंडार पोलिंग स्टेशन पर पहुंचने के लिए पोलिंग पार्टी को 7 किलोमीटर पैदल चलना होगा होगा।

New millebbiium International School 2

7881 पोलिंग स्टेशन पर होगी वोटिंग

प्रदेश विधानसभा चुनाव में 7881 पोलिंग स्टेशन पर वोटिंग होगी। इनमें 7235 फोल्डिंग स्टेशन गांव में है और 646 पोलिंग स्टेशन शहरी क्षेत्रों में खोले गए हैं। देश के सबसे बड़े कांगड़ा जिला में सबसे ज्यादा 1625 पोलिंग स्टेशन है जबकि लाहौल स्पीति में सबसे कम 92 पोलिंग स्टेशन खोले गए हैं।

सिद्ध बाड़ी पोलिंग स्टेशन पर सबसे ज्यादा 1511 वोटर, किन्नौर में सबसे कम 16 वोटर्स

राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार कांगड़ा के सिद्ध बाड़ी पोलिंग स्टेशन पर सबसे ज्यादा 1511 वोटर है। किन्नौर का पोलिंग स्टेशन पर सबसे कम 16 वोटर है।

 

Related posts

महाविद्यालय धर्मशाला एनएसएस इकाइ ने स्वीप ड्राइव के अंतर्गत ” एक वोट धर्मशाला के नाम ” कार्यक्रम में लिया भाग

Sandeep Shandil

कुल्लू के रामशिला शंगरी बाग में सेना की गाड़ी ने कार को मारी टक्कर

Sandeep Shandil

बेहतर और आधुनिक स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करवाने को सरकार बचनबद्ध : विपिन सिंह परमार

Sandeep Shandil

Leave a Comment