कभी मुख्यमंत्री तो कभी मंत्री बना देते हैं सुजानपुर विधायक : विनोद ठाकुर - himexpress
himexpress
Breaking News
Breaking News आयोजन हमीरपुर हिमाचल

कभी मुख्यमंत्री तो कभी मंत्री बना देते हैं सुजानपुर विधायक : विनोद ठाकुर

हिम एक्सप्रेस, हमीरपुर (संतोष कुमारी)

Advertisement

जहां पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल सुजानपुर में चहुमुखी विकास के आयाम स्थापित कर रहे है वही सुजानपुर विधायक अपनी जनसभाएं कर अपने पांच साल का रोना पीटकर पहाड़ी भाषा में गप्पा दा मीठा कड़ा खिलने में अवल और माहिर बन अपने मुंह मिठ्ठू खुद को कभी मुख्यमंत्री तो कभी मंत्री बना देते हैं।

यह सुजानपुर भाजपा मीडिया प्रभारी विनोद ठाकुर ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से कही पिछले पांच सालों में सुजानपुर विधायक सिर्फ अपने पांच काम गिनवाने का काम करे जो वह कर नहीं पाए ।

वही प्रदेश में जय राम सरकार कैबिनेट मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर और पूर्व मुख्यमंत्री धूमल ने सुजानपुर का कोई ऐसा क्षेत्र नहीं छोड़ा जहां पर उन्होंने विकास और उन्नति के रास्ते ना खोलें हों फिर चाहे रोजगार क्षेत्र में धौलासिद्ध जैसी परियोजना हो और सांसद रोजगार मेला के साथ-साथ प्रयास संस्था के माध्यम से ब्यूटीशियन टेक्नीशियन जैसे कोर्स करवा कर युवाओं को रोजगार प्रदान किया वही स्वास्थ्य की ओर देखा जाए तो सुजानपुर और टोनी देवी के अस्पतालों को ऑक्सीजन प्लांट के साथ सुजानपुर के द्वार  अनुराग ठाकुर द्वारा चलाई गई सासंद मोबाइल अस्पताल की सेवाएं उपलब्ध करवाकर जनता को राहत पहुंचाई।

सुजानपुर को जल शक्ति व विद्युत शक्ति के सब डिवीजन खुलवाए ऊटपुर में 10 करोड़ की आईटीआई और टोनी देवी में केंद्रीय विद्यालय बनवा कर शिक्षा क्षेत्र में कार्य किए लगभग 5 करोड़ का बी डी ओ भवन का निर्माण कार्य शुरू करवाया गया सुजानपुर की विभिन्न पंचायतों को करोड़ों रुपए के भवन राशि उपलब्ध करवाने के साथ-साथ करोड़ों रुपए की सड़कों के निर्माण कराकर यातायात मैंने आने वाली दुविधाओं को को दूर किया।

#himachal pradesh

 हाल ही में सुजानपुर बस स्टैंड के लिए 50 लाख और कुठेरा पंचायत भवन के लिए 95 लाख की राशि उपलब्ध करवाई विनोद ठाकुर ने कहा कि सुजानपुर विधायक कि नजरों में सिर्फ विधायक निधि से टेंट शामियाने बांटना ही विकास कार्य है परंतु वह भूल जाते हैं विधायक की निधि जनता की निधि होती है परंतु वह अक्सर विधायक निधि को भी अपनी जेब की निधि समझ कर जनता को संबोधन करते नजर आते हैं।

विधायक अपनी ही सभाओं में कभी मुख्यमंत्री तो कभी मंत्री बन जाते हैं लेकिन विधायक की अंदरुनी खाते रातों की नींद छूमंतर और हार का डर सता रहा है क्योंकि उनका छल से भरा समाजसेवी चेहरा जनता के समक्ष आ गया है।

Related posts

पार्षद अंजू सैनी ने जरूरमदों को पहुँचाए आर्थिक सहायता के चैक

himexpress

झियोल में बनेगा खेल मैदान: विशाल

Sandeep Shandil

राष्ट्रीय राफ्टिंग मैराथन श्रृंखला का आगाज़ आज।

Sandeep Shandil

Leave a Comment